पत्नि का प्रचार कर रहा हैं पति: प्रत्याशी विजय बिंदास ने की चुनाव आयोग में शिकायत- Shivpuri News

शिवपुरी। वार्ड क्रमांक 20 के भाजपा प्रत्याशी विजय शर्मा बिंदास ने चुनाव आयोग में भाजपा की बागी प्रत्याशी और पूर्व पार्षद रेखा परिहार के पति गब्बर परिहार की शिकायत की है। शिकायत में उन्होंने बताया कि बागी प्रत्याशी का पति शासकीय कर्मचारी है। इसके बाद भी वह आचार संहिता का उल्लंघन कर अपनी पत्नी के प्रचार में जुटा हुआ है। श्री बिंदास का कहना है कि गब्बर परिहार पीजी कॉलेज में कार्यरत हैं। उन्होंने चुनाव आयोग से गब्बर परिहार के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है।

जिला निर्वाचन अधिकारी को सौंपे पत्र में भाजपा प्रत्याशी ने लिखा है कि निर्दलीय प्रत्याशी रेखा पत्नी गजेंद्र उर्फ गब्बर परिहार चुनाव लड़ रही हैं। उनके पति गजेंद्र उर्फ गब्बर परिहार माधवराव सिंधिया स्नातकोत्तर महाविद्यालय शिवपुरी में जिम ट्रेनर के पद पर पदस्थ हैं।

उनका कर्मचारियों की सूची में 42 वें नम्बर पर नाम दर्ज है, जो निर्वाचन आयोग द्वारा बनाए गए नियमों का खुला उल्लंघन करते हुए अपनी पत्नी का खुलकर प्रचार-प्रसार कर रहे हैं और जगह-जगह चुनाव के प्रचार हेतु होडिंग में अपना और अपनी पत्नी का फोटो लगाकर नियमों की धज्जियां उड़ा रहे हैं। जिससे निष्पक्ष चुनाव होने की संभावना क्षीण हो गई हैं। ऐसी स्थिति में चुनाव आयोग को जल्द से जल्द उक्त कर्मचारी प्रत्याशी पति पर कार्रवाई कर उन्हें चुनाव प्रचार से दूर रखा जाए।

भाजपा प्रत्याशी के बैनर फाड़े, विरोधियों पर जताया संदेह

वार्ड क्रमांक 20 में चुनावी घमासान काफी तेज हो गया है। बीती रात्रि किसी अज्ञात व्यक्तियों ने भाजपा प्रत्याशी विजय शर्मा बिंदास के वार्ड में लगे प्रचार-प्रसार के बैनर फाड़ दिए। जिससे वहां तनावपूर्ण स्थिति निर्मित हो गई। जिसकी शिकायत भाजपा प्रत्याशी श्री शर्मा ने निर्वाचन अधिकारी सहित पुलिस में की है। उन्होंने संदेह जताया है कि विरोधियों ने उन्हें मिल रहे जनसमर्थन से परेशान होकर यह कार्य किया है।

श्री शर्मा का कहना है कि दो दिवस पूर्व एक निर्दलीय प्रत्याशी भी उनके कार्यालय पर आकर उन्हें धमकी दे चुका है और उन्हें लगातार चुनाव मैदान से हटने की धमकियां मिल रही हैं। उन्होंने निर्वाचन आयोग और जिला प्रशासन व पुलिस से मांग की है कि उन्हें सुरक्षा मुहैया कराई जाए और वार्ड में घूम रहे अवांछनीय लोगों पर कार्रवाई की जाए और चुनाव निर्विघ्र सम्पन्न कराए जाएं।