बडी खबर:पूर्व नपा उपाध्यक्ष अन्नी शर्मा ने खीचा अपना फार्म,जिला बदर का प्रेशर

शिवपुरी। आज नगर पालिका शिवपुरी के पार्षद पद के प्रत्याशियों के नामांकन लेने का दिन था। चुनाव मैदान से हटने की इस प्रक्रिया में कई नाम सामने आए लेकिन सबसे बड़ी खबर आई वार्ड क्रमांक 11 से,इस वार्ड से कांग्रेस नेता और पूर्व नपा उपाध्यक्ष अन्नी शर्मा ने अपना निर्दलीय के रूप से अपना फार्म भरा था लेकिन आज अन्नी शर्मा ने चुनाव न लड़ने का मन बनाते हुए अपना फार्म वापस ले लिया है।

विदित हो कि पूर्व नपा उपाध्यक्ष पर जिला बदर की कार्यवाही तलवार लटकी है और इसकी चलते 3 दिन पूर्व अन्नी शर्मा के घर पर जिला बदर का नोटिस चस्पा कर दिया गया था कलेक्टर ने सुनवाई के लिए तारिख भी दी थी,अन्नी शर्मा ने अपने वकील के माध्यम से जिला दंडाधिकारी महोदय को अपना पक्ष रखा,लेकिन अभी जिला दंडाधिकारी ने इस विषय में कोई निर्णय नही लिया हैं,कुल मिलाकर अभी भी अन्नी शर्मा पर जिला बदर होने की तलवार लटकी है।

इस मामले में शिवपुरी समाचार ने अन्नी शर्मा से बातचीत की,सवाल किया गया कि वार्ड क्रमांक 11 से अपना फार्म क्यो वापस लिया। अन्नी शर्मा का कहना है कि सत्ता के प्रेशर में सरकारी मशीनरी काम कर रही है। मेरे घर पर 22 केस का नोटिस चस्पा कर जिला बदर की कार्यवाही को अंजाम दिया जा रहा हैं मैने अपना पक्ष जिला दंडाधिकारी महोदय के पास अपने वकील के माध्यम से रखा हैं इस मामले में अब अगली सुनवाई 23 तारिख को होनी है।

अन्नी शर्मा ने कहां कि यह तय है कि में अगर में अपना नामाकन वापस नही लेता तो मेरे मुझे जिला बदर कर दिया जाता। मेरे उपर सन 2013 के बाद 4 अपराधिक प्रकरण दर्ज हुए हैं जिसमे एक भूमि विवाद सिविल का हैं,बाकी मामले राजनीति से जुडे हुए है।

बाकी सब मामले सन 13 से पूर्व के है इन मामलों को लेकर मेरे ऊपर कार्यवाही हो चुकी हैं जबलपुर हाईकोर्ट का आदेश है कि सन 13 से पूर्व के किसी मामले को आगे नहीं जोडा जाए। पुलिस ने एक मामला 302 का बताया है वह गलत हैं,302 की कोई भी एफआईआर मेरे उपर दर्ज नहीं हैं। यह पूरी लिस्ट द्धेष भावना से तैयार की हैं सन 13 के बाद के मामलो में मेरे ऊपर जिला बदर की कार्यवाही नही बनती। जिला दंडाधिकारी पर सत्ता का प्रेशर है और मुझे लगता है कि कल मेरे उपर जिला बदर की कार्यवाही हो सकती है।