बोलता फोटो: चिलचिलाती गर्मी में टेंपो में तिरपाल लगाकर लाना पड़ा, कॉल पर नही एम्बुलेंस - Shivpuri News

शिवपुरी।
खबर जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ्य विभाग की पोल खोलने वाली हैं कि स्वास्थ्य विभाग का ग्रामीण अमला कितना सजग हैं यह तस्वीर जिला अस्पताल में देखने को मिली। पोहरी के छर्च क्षेत्र से एक गंभीर बीमार को एंबुलेंस नही मिली। इंतजार करने के बाद इतनी भीषण गर्मी में खुले लोडिंग में तिरपाल लगाकर बीमार को शिवपुरी अस्पताल लना पडा।

थाना छर्च अंतर्गत ग्राम देहद निवासी सीताराम आदिवासी ने बताया कि उसके 22 वर्षीय बेटा मनोज आदिवासी शुगर की बीमारी से ग्रसित है बीते रोज मनोज एक शादी समारोह में शामिल होने गया था जहां उसने मिठाई सहित कोल्ड ड्रिंक का सेवन कर लिया जिसके बाद घर पहुंचा तो उसकी अचानक तबीयत खराब होने लगी। आनन-फानन में मनोज को पोहरी के स्वास्थ्य केंद्र लाया गया जहां उसकी हालत को देखते हुए डॉक्टरों ने शिवपुरी के लिए रेफर कर दिया।

एंबुलेंस मिली नहीं, पैसे थे नहीं खुली गाड़ी से लाना पड़ा

मजबूर पिता सीताराम ने बताया पोहरी स्वास्थ्य केंद्र पर उपचार के लिए मनोज को भर्ती कराया था। जहां से डॉक्टरों ने उसे शिवपुरी के लिए रेफर कर दिया उसके पास पैसे नहीं थे सरकारी एंबुलेंस से ले जाने की बात उसने डॉक्टरों से कहीं तो डॉक्टरों ने उसे एंबुलेंस तत्काल मुहैया न हो पाने की बात कही और उसे निजी वाहन से शिवपुरी के जिला अस्पताल ले जाने की सलाह दी। सीताराम ने बताया कि उसके पास इतने पैसे नहीं थे कि वह प्राइवेट एम्बुलेंस कर सके और बेटे की भी जान को खतरा बनता जा रहा था।

सड़क पर खड़ा होकर किया शिवपुरी जाने वाले वाहनों का इंतजार

सीताराम आदिवासी ने बताया उसने शिवपुरी जाने वाले वाहनों का इंतजार सड़क पर खड़े होकर किया। इस दौरान उसे एक लोडिंग वाहन शिवपुरी की ओर जाते हुए मिला जिसमें वह सवार होकर अपने बेटे को तपती दोपहर में लोडिंग वाहन में लेटा कर लेकर शिवपुरी के जिला अस्पताल पहुंचा है। जहां उसने अपने बेटे मनोज को भर्ती करवाया है।