मिलिए शिवपुरी के मुसद्दीलाल से: 9 साल में 100 से ज्यादा आवेदन, फिर भी सुनवाई नहीं- Shivpuri News

शिवपुरी। आज मंगलवार को शिवपुरी कलेक्टर अक्षय कुमार सिंह के पास एक युवक जनसुनवाई में पहुंचा और अपनी व्यथा सुनाते हुए कलेक्टर से सुनवाई की गुहार लगाई। पीड़ित ने बताया है कि वह बीते 9 साल में 100 से ज्यादा आवेदन दे चुका है। परंतु एक भी आवेदन पर सुनवाई नहीं हुई। वह आफिस आफिस खेलता रहा परंतु हर तरफ से मायूसी ही हाथ लगी।

शिवपुरी के कलेक्टर सभागार में हुई जनसुनवाई में जसराजपुर गांव के निवासी पाठन सिंह पुत्र बद्री शाक्य अपनी शिकायत लेकर पहुंचा। पाठन सिंह ने बताया कि 22 जून 2013 को घोसीपुरा शिवपुरी में उसके चाचा दौजा पर बिजली के तार टूटकर गिर पड़ा था। जिसमें करंट लगने से उनकी मौत हो गई।

पाटन सिंह ने बताया कि चाचा की शादी नहीं हुई, मैं उनका इकलौता वारिस हूं। वह गरीब परिवार से आता है। उसके चाचा भी पत्ती बेचने की फेरी लगाकर 2 पैसे कमाते थे। लेकिन उनकी मौत बिजली विभाग की तार टूटने से हो गई। मौत के बाद से ही लगातार सहायता राशि प्राप्त करने की अर्जी लगा चुका है। इसके बावजूद अभी तक उसकी कोई सुनवाई नहीं हुई।

पाठन सिंह ने बताया कि इन 9 सालों में उसने 100 से भी ज्यादा आवेदन दिए, लेकिन उसके हाथ में सहायता राशि के नाम पर 100 रुपए भी नहीं आए। आज फिर वह कलेक्टर में आयोजित हुई जनसुनवाई में पहुंचा। जहां चाचा दौजा की मौत की सहायता राशि दिलवाए जाने की मांग कलेक्टर से की है।