बदरवास में हुए आतिशबाजी विस्फोट घटना की होगी मजिस्ट्रियल जांच, 4 मई तक करें साक्ष्य पेश - Shivpuri News

शिवपुरी।
कलेक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट द्वारा थाना बदरवास अंतर्गत वार्ड क्रमांक 05 जैन कॉलोनी में हुए 14 अप्रैल को हुई आतिशबाजी विस्फोट घटना की मजिस्ट्रियल जांच के आदेश दिए है। मजिस्ट्रियल जांच हेतु अनुविभागीय दण्डाधिकारी कोलारस ब्रज बिहारी लाल श्रीवास्तव को दाण्डिक जांच अधिकारी नियुक्त किया गया है।

उक्त घटना के संबंध में कोई व्यक्ति अथवा संस्था किसी प्रकार की जानकारी, साक्ष्य अथवा तथ्य 04 मई तक कार्यालय अनुविभागीय अधिकारी परगना कोलारस में प्रातः 11 बजे से सायं 06 बजे तक लिखित अथवा मौखिक रूप से प्रस्तुत कर सकते है। उक्त अवधि उपरांत प्रस्तुत जानकारी, साक्ष्य तथा तथ्यों पर विचार संभव नहीं होगा।

यह थी घटना
जैसा कि ज्ञात है पप्पू मंसूरी और बल्लू मंसूरी के मकान में 12 अप्रैल की दोपहर निचली मंजिल में पटाखे बनाए जा रहे थे। जिसमें लगभग 10 लोग थे। जबकि ऊपरी मंजिल में 5 लोग मौजूद थे। कुछ व्यक्ति घर के बाहर भी खड़े हुए थे। अचानाक दोपहर 12 बजे जहां आतिशबाजी बनाई जा रही थी वहां पहले एक विस्फोट हुआ और फिर इसके बाद दूसरा तेज विस्फोट हुआ और देखते ही देखते आग लग गई। चीख चिल्लाहट शुरू हो गई। कस्बे में भी भय का वातावरण व्याप्त हो गया।

आसपास के मकान की दीवारें हिल उटीं। आग कैसे लगी यह तो स्पष्ट नहीं हुआ। लेकिन बताया जाता है कि तेज गर्मी के कारण विस्फोटक पदार्थ में आग लगी। जिससे विस्फोट हुआ। विस्फोट की आवाज सुनकर पडोस में रहने वाले लोग घरों से बाहर निकल आए और वहां भगदड़ मच गई। इसके बाद लोगों ने पप्पू मंसूरी के मकान से धुंआ का गुब्बार निकलता दिखा और वहां चीख पुकार भी सुनाई दी। जिससे लोगों ने मकान में बचाव कार्य शुरू किया।