पदोन्नति को लेकर सपाक्स करेगा आंदोलन तेज, बैठक मातोश्री में संपन्न- Shivpuri News

शिवपुरी। म.प्र. में शीघ्र ही पदोन्नति किए जाने की मांग को लेकर संघर्षरत सपाक्स की जिला इकाई की बैठक गत दिवस मातोश्री होटल में प्रदेशाध्यक्ष के.एस. तोमर की अध्यक्षता में संपन्न हुई। बैठक में संगठन की जिला कार्यकारिणी का विस्तार किया गया। काफी लम्बे समाय से म.प्र. में पदोन्नति न होने पर कर्मचारी वर्ग नाराज है शीघ्र ही सर्वोच्य न्यायालय के निर्णय के अधीन पदोन्नति किए जाने की मांग को लेकर आंदोलन करने के लिए सपाक्स ने कर्मचारियों को संगठित करने का कार्य तेज कर दिया है।

सामान्य पिछड़ा एवं अल्पसंख्यक अधिकारी कर्मचारी संस्था के जिला नोडल अधिकारी मनोज निगम एवं जिलाध्यक्ष कौशल गौतम ने प्रेस को जारी विज्ञप्ति में वताया कि सपाक्स के प्रदेशाध्यक्ष के एस तोमर की अध्यक्षता में एवं प्रांतीय उपाध्यक्ष इंजीनियर देवेन्द्र सिंह भदौरिया, प्रदेश आईटी सेक्टर प्रभारी प्रवीण तिवारी की उपस्थिति में सपाक्स की बैठक गत दिवस मातोश्री होटल में आयोजित हुई। जिसमें प्रदेशाध्यक्ष के.एस. तोमर द्वारा जिला कार्यकारिणी का विस्तार करते हुए संजय पाराशर को शिवपुरी जिले का नोडल अधिकारी एवं जिला सचिव के पद पर राज कुमार सड़ैया का मनोनयन किया है। जिस पर कर्मचारियों ने हर्ष व्यक्त किया है।

जिला सचिव बनने पर राजकुमार सड़ैया ने सपाक्स का आभार प्रकट किया है तथा विश्वास दिलाया है कि वे सदैव संगठन व कर्मचारी हित में पूर्ण ईमानदारी एवं निष्ठा के साथ कार्य करते रहेंगे। प्रदेशाध्यक्ष के.एस. तोमर ने कर्मचारियों को संबोधित करते हुए कह कि म.प्र. में शीघ्र ही पदोन्नति किए जाने की आवश्यकता है कर्मचारी बिना पदोन्नत हुए ही बढ़ी संख्या में सेवानिवृत हो रहे हैं। जिसको लेकर सपाक्स की मांग है कि सर्वोच्य न्यायालय के निर्देशानुसार सभी योग्य कर्मचारियों को पदोन्नति का लाभ दिया जाए।

बैठक में जिला नोडल अधिकारी मनोज निगम, जिलाध्यक्ष कौशल गौतम, महेन्द्र तोमर जिला क्रीड़ाधिकारी, अंगद सिंह तोमर बीआरसीसी, अनिल चैबे प्राचार्य, विमल श्रीवास्तव सहायक संचालक, मनोज पाठक, संजय पाराशर, कार्यवाहक अध्यक्ष यादवेन्द्र चैधरी, प्रदीप अवस्थी, राजकुमार सरैया, सास के जिलाध्यक्ष पवन अवस्थी, अरविन्द सरैया, जितेन्द्र गुप्ता, सदाशिव भार्गव, बसन्त शर्मा, ओपी शर्मा, प्रदुम्न भार्गव, पवन शर्मा, विपिन पचौरी, बृजेन्द्र भार्गव, शरद निगम, रामकृष्ण रघुवंशी, राजेश पाठक, मनोज शर्मा, रूपेश श्रीवास्तव, जाउद्दीन कुर्रेशी, नरेश शर्मा, उत्कर्ष भार्गव आदि प्रमुख रूप से उपस्थित थे।