दूसरी से प्यार और अपनी को प्रताड़ित करता था, पत्नी ने जहर खा लिया- kolaras News

Bhopal Samachar
शिवपुरी। खबर शहर के जिला अस्पताल से आ रही है कि अस्पताल में एक विवाहिता की जहर खाने से मौत हो गई। बताया जा रहा है उक्त विवाहिता को उसकी मां और भाई लेकर आया था। मां ने उसे डॉक्टरों से भी चेक नहीं कराया और ना ही पुलिस को जानकारी देना चाह रही थी,बल्कि ऑटो में अपनी बेटी की लाश रखकर भागने का प्रयास भी किया,लेकिन आटो वाले ने जाने से मना कर दिया। पब्लिक के समझाने पर माँ मानी की पुलिस को जानकारी दोगी जब ही उसके पति पर कार्रवाई होगी।

जानकारी के अनुसार कोलारस अनुविभाग के अंतर्गत आने वाले ग्राम खौरोना निवासी महिला आशा आदिवासी का विवाह कुछ वर्ष पूर्व राजस्थान के कॉलोनी निवासी करण आदिवासी से हुआ था। उसके 3 बच्चे भी हैं। महिला का पति किसी और महिला से शादी करना चाहता था, जिस कारण वह अपनी पत्नी के साथ रोज मारपीट करता था। पति की प्रताड़ना से तंग आकर आज महिला ने जहर का सेवन कर लिया,इसकी सूचना विवाहिता ने अपने परिजनों को फोन पर दी की मेने जहर खा लिया।

सूचना के बाद महिला का भाई और मां अपनी बेटी के पास पहुंचे और महिला को जिला अस्पताल लेकर पहुंचे। यहां तक तो सब ठीक था लेकिन अस्पताल के अंदर पहुंचने के बाद लडकी की मां ने अपनी बेटी को स्ट्रेचर से नीचे पटक लिया और इलाज कराने का मना करने लगी साथ मे आया भाई भी इलाज का मना करने लगा साथ ही पुलिस को इस बार मे जानकारी भी नहीं देना चाहते थे।

इस बारे मे लोगों ने समझाया की पुलिस को जानकारी दो आरोपियों पर कार्यवाही हो जाएगी लेकिन फिर भी मां मानने को तैयार नही थी और इसके बाद महिला का भाई और मां लाश को उठा कर अस्पताल के बाहर चलते बने। जहां भाई टैक्सी लेकर आया और लाश ले जाने लगा फिर टैक्सी वाले द्वारा मना करने के बाद भाई को समझाया जिसके बाद भाई माना और लाश को अस्पताल मे अंदर ले गया लेकिन इन सबके बावजूद भी मां किसी प्रकार की कार्यवाही के लिए तैयार नही थी।
G-W2F7VGPV5M