पति ने कहा कि पत्नी बाजारू है, बच्चे मेरे नहीं है DNA कराओ, बच्चों सहित पत्नी को घर से निकाला - Shivpuri News

NEWS ROOM
शिवपुरी।
खबर शहर के सिटी कोतवाली क्षेत्र के रातौर गांव से आ रही है। जहां एक महिला ने अपने पति पर मारपीट करने का आरोप लगाते हुए घर से निकालने का आरोप लगाया है। महिला का आरोप है कि महिला का पति उसे बाजारू कहकर उसके चरित्र पर संदेह करता है। साथ ही बच्चों को अपना नहीं मानता। इसके साथ ही वह कहता है कि अगर चाहे तो बच्चों का डीएनए करा ले बच्चे उसके है ही नहीं इस मामले की शिकायत पीडिता ने सिटी कोतवाली पहुंचकर की। जहां पुलिस ने इस मामले में जांच के बाद कार्यवाही की बात कही।

जानकारी के अनुसार रातोर गांव की रहने वाली एक महिला थाने पहुंची थी। महिला ने आप बीती सुनाते हुए कहा कि उसकी शादी रातोर ग्राम के रहने वाले युवक से 2018 में हुई थी। पिता ने 8 लाख रुपए कैश और 5 लाख रुपए के जेवर दिए थे। इसके अलावा अन्य समान भी दिया था। शादी के समय पति दिल्ली में जॉब करते थे तो मुझे भी साथ ले गए। कुछ समय तक सब ठीक रहा, बाद में पति उसे पहले ग्वालियर लेकर आया। यहां पर उसके जेवर सहित अन्य सामान गिरवी रख दिया। यहां से अपने गांव रातोर ले आया। शादी के समय परिवार ने मेरे पिता से दिल्ली में रखने की ही बात कही थी, लेकिन अब गांव में रख रहे हैं।

महिला ने महिला थाने पहुंचकर शिकायत दर्ज करवाई

गांव आई तो पति के साथ ही ससुरालवालों का व्यवहार बदल गया। इन्होंने मुझे प्रताड़ित करना शुरू कर दिया। पति आए दिन शराब पीकर मारपीट करने लगे। 4 जनवरी 2022 को पति ने उसे पीटा और बच्चों सहित घर से बाहर निकला दिया। यहां से वह सीधे अपने माता-पिता के घर रहने चली गई।

कहता है बच्चों का DNA करवा, मुझे बाजारू कहता है

महिला का कहना है कि उसे एक बेटी और बेटा है। पति आए दिन बेटी के DNA टेस्ट कराने की बात कह कर उसे प्रताड़ित करता है। पति का कहना है बेटी ही नहीं बेटा भी उसका नहीं है। वह बेटे को मायके से लेकर आई है। वह उसे बाजारू कहता है। उसका आरोप है कि 6 महीने पहले बेटा हुआ तो पति ने 8 लाख रुपए लेकर आने की मांग की।

पुलिस ने मांगी दहेज की सूची

महिला ने बताया कि वह पति से परेशान हो चुकी है। वह अब उसके साथ नहीं रहना चाहती, उसे तलाक चाहिए। उसने पुलिस से दहेज के साथ जेवर और सामान वापस करवाने की मांग की। इसके लिए उसने आवेदन भी महिला थाने में दिया था। पुलिस ने उससे दहेज में दिए सामान की सूची मांगी थी, जिसे उसने जमा करा दिया।

इनका कहना है
आज अंकिता रावत का आवेदन महिला थाने में आया है इससे पहले भी वह महिला थाने में आ चुकी है। उसके पति को भी महिला थाने बुलाया गया था। परन्तु अंकिता रावत सभी कार्यवाही कोर्ट के माध्यम से करवाना चाहती है। इसके साथ दहेज के तौर पर दिए गए सामान को वापिस चाहती है। कुल मिला कर अंकिता अपने पति से तलाक चाहती है। आगे की कार्रवाई जारी है।
पूनम सविता,थाना प्रभारी महिला डेस्क
G-W2F7VGPV5M