CMHO की मौत: शरीर पर चोट तक नहीं थी, पीएम में हुआ खुलासा- Shivpuri News

शिवपुरी‎। गुना जिले के सीएमएचओ डाॅ.‎ हेमंत गौतम का रविवार की सुबह‎ गुना से दतिया जाते वक्त‎ कोटा-झांसी हाईवे पर करैरा के‎ पास सड़क हादसे में मौत हो गई।‎ वे गुना से दतिया अपने परिवार के‎ ‎पास जा रहे थे। दतिया से महज‎ 60 किमी पहले वे हादसे का‎ शिकार हो गए।‎ हादसे में सुरक्षित बचे ड्राइवर कल्ला रजक का कहना है कि वह सीएमएचओ डॉ. गौतम को लेकर ‎ ‎ सुबह 5:45 बजे गुना से निकला।

कोलारस के बाद पड़ौरा चौराहे पर‎ डॉ. गौतम को नींद आने लगी तो‎ वह आगे की सीट से उठकर पीछे‎ की सीट पर चले गए। दतिया जाने‎ के लिए कोटा-झांसी फोरलेन हाइवे‎ पर सिरसौद के पास कोहरे के बीच‎ आगे चल रहे गैस के टैंकर में पीछे‎ से जा घुसी। करैरा अस्पताल में‎ पीएम से पहले उनका एक्स-रे‎ कराया तो पता चला कि उनके सिर‎ व पसलियों में दाहिनी तरफ फ्रेक्चर‎ है। पसलियां अंदर तक धंस जाने‎ से मौत का कारण माना जा रहा है‎ जबकि बाहर से देखने पर चोट के‎ निशान नजर नहीं आ रहे थे।‎ ‎

जैसे ही बोलेरो क्रमांक एमपी08‎ टी2508 आगे चल रहे गैस टैंकर से‎ टकराई, तुरंत एयर बैग खुल गया।‎ एयरबैग की वजह से चालक कल्ला‎ रजक की जान बचा गई। हादसे में‎ चालक कल्ला रजक को महज पैर में‎ मामूली चोट आई है। हालांकि टैंकर में‎ पीछे से बोलेरो जिस अंदाज में भिड़ी‎ है, ड्राइवर की साइड काफी हद तक‎ बच गई। ऊपर से एयरबैग खुल गया।‎