आंखों में मिर्ची झोंककर मुनीम की लूट का 48 घंटे में पर्दाफाश, व्यापारी के बेटे ने रैकी कर कराई थी लूट- Pichhore News

पिछोर। खबर जिले के पिछोर थाना क्षेत्र से आ रही है। जहां बीते 48 घंटे पहले हुई लूट का पुलिस ने महज 48 घंटे में पर्दाफास कर लिया है। विदित हो कि 28 सितंबर को फरियादी ने थाना पिछोर आकर सूचना दी कि वह सेठ विक्की कुकरेजा की दुकान पर मुनीम हूं और दुकानों से पैसे वसूलने का काम करता हूं, आज दोपहर 3:45 बजे के लगभग मै दुकानों से पैसा वसूल कर रहा था तभी एक अज्ञात व्यक्ति मुंह पर रुमाल लगाए हुए आया और मेरी आंखों में मिर्ची डालकर मेरे हाथ से बैग छीन ले गया जिसमें लगभग 100000 एवं कागजात थे, फरियादी की उक्त रिपोर्ट पर से थाना पिछोर में धारा 392 ,11/13 एमपीडीपीके एक्ट का पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

इस मामले को पुलिस अधीक्षक शिवपुरी राजेश सिंह चंदेल द्वारा गंभीरता से लेकर घटनास्थल का मुआयना किया एवं आरोपियों की जल्द से जल्द गिरफ्तारी हेतु निर्देश दिए । पुलिस अधीक्षक शिवपुरी राजेश सिंह चंदेल के निर्देशन एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रवीण भूरिया एसडीओपी पिछोर दीपक तोमर के मार्गदर्शन में एक पुलिस टीम का गठन किया गया एवं आरोपियों की गिरफ्तारी हेतु मुखबिर तंत्र सक्रिय किया गया ।

दिनांक 30.09.2021 को थाना प्रभारी पिछोर निरीक्षक गब्बर सिंह गुर्जर को मुखबिर द्वारा सूचना प्राप्त हुई कि लूट की घटना को अंजाम देने वाला आरोपी गल्ला मंडी के पास बैठा है, उक्त सूचना पर से थाना प्रभारी पिछोर द्वारा वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराया जिस पर से अति. पुलिस अधीक्षक शिवपुरी एवं एसडीओपी करैरा के मार्गदर्शन मे थाना प्रभारी पिछोर द्वारा उनि. नितिन भार्गव के नेतृत्व में पुलिस टीम को मुखबिर द्वारा बताये स्थान पर रबाना किया गया, पुलिस टीम ने वहां पहुंचकर देखा तो बताये हुलिये का व्यक्ति बैठा दिखा।

जिसे हमराह फोर्स की मदद घेराबंदी कर पकड़ा, जिसपर पता चला कि उक्त आरोपी हेमंत पुत्र सोमराज कोली 23 साल निवासी राजा महादेव पिछोर ने लूट की बारदात कबूल की। जब उक्त आरोपी से पूछताछ की तो उसने बताया कि मोनू पुत्र मनीराम खचेरा जो कि मनिहारी के व्यापारी का मनीराम का बेटा है। उसी ने उक्त लूट की योजना बनाते हुए मुखबिरी की थी। जिसपर पुलिस ने दूसरे आरोपी को मोनू को भी गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने इस मामले में आरोपीयों के कब्जे से 64 हजार रूपए सहित लूट की सभी सामाग्री बरामद कर ली।

उक्त कार्यवाही मे थाना प्रभारी पिछोर निरी. गब्बर सिंह गुर्जर, उनि. नितिन भार्गव, सउनि जहान सिंह, आर. हेम सिंह गुर्जर की महत्वपूर्ण भूमिका रही ।