खबर का बड़ा असर: गौशाला के गेट के नीचे दबने से हुई अनुराग की मौत के मामले में सरपंच सचिव और इंजीनियर पर मामला दर्ज - Shivpuri News

शिवपुरी। जिले के गोवर्धन थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले ग्राम बूढदा में घटिया सामग्री से एक वर्ष पहले बनी गौशाला के गेट का पिलर ढहने से युवक अनुराग आदिवासी दब गया और उसकी मौत हो गई। इस मामले को सबसे पहले शिवपुरी समाचार डॉट कॉम ने प्रकाशित करते हुए दोषियों पर गैर इरादतन हत्या का मामला दर्ज करने की मांग की थी।

इस मामले की सूचना जैसे ही सहरिया क्रांति के संयोजक संजय बेचैन को लगी तो उन्होंने ततकाल सहरिया क्रांति के सदस्यों को मौके पर भेजा। सहरिया क्रांति के सदस्यों ने मौके पर पहुँचकर प्रदर्शन किया जिसके बाद गोवर्धन थाने में पुलिस ने घटिया निर्माण कार्य कराने वाली ऐजेंसी पंचायत के सरपंच दिनेश परिहार, पंचायत सचिव सुरेश धाकड़ बूड़दा एवं इंजीनियर अविनाश सक्सेना के खिलाफ धारा 304 ए का प्रकरण पंजीबद्ध किया गया हैं।

जानकारी के अनुसार अनुराग पुत्र रामसेवक आदिवासी उम्र 10 साल अपने पिता रामसेवक के साथ अभी एक साल पहले बनी गौ शाला में गायों की देखभाल के लिए गया हुआ था। पिता गाय की सेवा में लगा हुआ था तभी अचानक घटिया निर्माण से बना इस गौशाला का गेट भरभराकर गिर गया।

इस गेट की चपेट में अनुराग आ गया जिससे उसकी दर्दनाक मौत हो गई। इस मामले की सूचना पर परिजन मासूम को लेकर बैराड़ उप स्वास्थ्य केंद्र पर पहुँचे। जहां डॉक्टरों ने मासूम को मृत घोषित कर दिया।

उक्त गौशाला का निर्माण 1 साल पहले ही किया गया था। जो घटिया निर्माण की बानगी बना हुआ था। इस गौशाला में गायों की देखभाल रामसेबक करता था। आज उसका बेटा उसके साथ चला गया और घर का चिराग बुझ गया। बैराड़ उपस्वास्थ्य केंद्र में पीएम कराया गोवर्धन थाने में मर्ग कायम कर विवेचना शुरू करदी।

इतना ही नहीं घटिया निर्माण करा रहे पंचायत के सरपंच, सचिव एवं इंजीनियर पर धारा 304 का प्रकरण पंजीबद्ध किया गया हैं।