SHIVPURI के रीतेश जैन ने श्योपुर के रमेशचंद्र और सुमत जैन के खिलाफ 420 का मामला दर्ज कराया

शिवपुरी। शहर के सिटी कोतवाली पुलिस ने शिवपुरी की ओसवाल गली में रहने वाले एक युवक रीतेश पुत्र विपिनचंद्र जैन की फरियाद पर से श्योपुर के जोशी मोहल्ला में रहने वाले रमेशचंद्र जैन और सुमत जैन के खिलाफ अमानत में ख्यानत और धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया गया है।

टीआई बादाम सिंह यादव ने बताया कि आरोपी युवक के रिश्तेदार हैं। आरोपीगण ने राजस्थान के कोटा शहर में स्थित एक प्लाट का सौदा रीतेश से किया था। जिसका एग्रीमेंट कराया गया और एडवांस के तौर पर 2 लाख रूपए ले लिए। जब रजिस्ट्री का समय आया तो आरोपियों ने रजिस्ट्री कराने से इंकार कर दिया और एडवांस की राशि वापिस देने में भी आना कानी करने लगे।

जिस पर रीतेश ने कोतवाली में शिकायत दर्ज कराई। जिसकी जांच के बाद पुलिस ने दोनों आरोपी रमेशचंद्र जैन और सुमत जैन के खिलाफ भादवि की धारा 406, 420 और 120बी के तहत प्रकरण पंजीबद्ध कर लिया है।

पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार फरियादी रीतेश पुत्र विपिनचंद्र जैन ने एक वर्ष पूर्व श्योपुर निवासी आरोपी रमेशचंद्र जैन और सुमतचंद्र जैन से कोटा राजस्थान में मौजूद एक प्लाट का सौदा 5 लाख 10 हजार रूपए में किया था। दोनों के बीच सहमति के बाद उनके बीच एक एग्रीमेंट हुआ। उस समय रीतेश ने आरोपियों को 2 लाख रूपए एडवांस के तौर पर दे दिए और तय हुआ कि एक वर्ष में शेष राशि देने के बाद रजिस्ट्री करा दी जाएगी।

एग्रीमेंट होने के बाद रीतेश प्लाट की रजिस्ट्री कराने के लिए 3 लाख 10 हजार रूपए लेकर आरोपियों के पास पहुंचा और उनसे रजिस्ट्री कराने के लिए कहा तो आरोपी मुकर गए और उन्होंने रजिस्ट्री कराने से इंकार कर दिया।

इसके बाद रीतेश ने अपना एडवांस 2 लाख रूपए वापिस मांगा तो आरोपी उसे रकम वापिस देने का आश्वसन देते रहे और बाद में उन्होंने रूपए देने से इंकार कर दिया। इसके बाद पीडि़त ने पुलिस की शरण ली और जांच के बाद पुलिस ने मामले में प्रकरण पंजीबद्ध कर लिया।