बीच रास्ते में टीबी के मरीज को उतारकर भाग गया एम्बुलेंस चालक, तड़फ तड़फ कर मौत - Shivpuri News

शिवपुरी। ग्वालियर से एम्बुलेंस द्वारा शिवपुरी लौट रहे टीबी मरीज नरेंद्र पुत्र मंगल सिह जाटव उम्र 25 वर्ष की एम्बुलेंस चालक की लापरवाही से मौत हो गई। एम्बुलेंस चालक मरीज व उसकी पत्नी को बीच रास्ते में उतारकर भाग गया। मृतक नरेंद्र जाटव को सुभाषपुरा के स्थान पर 5 किमी पहले ही एम्बुलेंस चालक उतार गया।

किसी तरह डायल 100 मौके पर पहुंची और नरेंद्र तथा उसकी पत्नी और बच्चे को सतनवाड़ा अस्पताल लाया गया। जहां से उसे शिवपुरी रैफर किया गया। लेकिन तब तक उसकी मौत हो गई थी।

पत्नी रचना जाटव ने बताया कि उसकी पत्नी को टीबी की बीमारी थी और 21 मई को इलाज कराने ग्वालियर ले गए थे। ग्वालियर में 5 दिन भर्ती रहने के बाद शिवपुरी आ गए। 27 मई को फिर ग्वालियर के निजी अस्पताल में भर्ती रहे और यहां से 28 मई को सरकारी अस्पताल के लिए भेज दिया।

जहां आरोप है कि उसका किसी ने इलाज नहीं किया और 29 मई को एक डॉक्टर के जहां जाकर उसने दिखाया और डॉक्टर ने 10 दिन की दवा देकर कहा कि घर चले जाओ। एम्बुलेंस से वह जब आ रहे थे, तो अचानक पति की मानसिक हालत खराब हो गई और वह जोर-जोर से मां दुर्गा चिल्लाकर रोने लगा। इस पर चालक बीच रास्ते में छोड़कर चला गया।