लाइट जाते ही तड़पने लगे कोरोना मरीजः नया जनरेटर आया - Shivpuri News

शिवपुरी। जिला अस्पताल शिवपुरी में शनिवार की शाम अचानक आई आंधी से बिजली गुल हो गई। जिला अस्पताल शिवपुरी के आइसोलेशन वार्ड और कोविड आईसीयू की भी बत्ती गुल हो गई। ऐसे में ऑक्सीजन कंसंट्रेटर भी बंद हो गए और मरीज बेहाल होने लगे। करीब 45 मिनिट तक मरीज परेशान रहे।

जिला अस्पताल शिवपुरी में जनरेटर की व्यवस्था होते हुए भी समय पर उसे नहीं चलाया जा रहा है। इसका सीधे तौर पर मरीजों पर असर पड़ रहा है। शनिवार की शाम के अलावा भी दोपहर के समय बत्ती गुल हो गई थी। वीडियो सामने आए जिसमें मरीज काफी कराहते हुए दिखाई दिए और अटेंडर उसकी पीठ सहलाते नजर आए।

इसके अलावा शुक्रवार की शाम भी आंधी के कारण लाइट चली गई थी। इस अव्यवस्था के कारण मरीजों हो रही परेशानी को लेकर अटेंडर खासे नाराज हैं। जनरेटर चलाने में देरी के बारे में पता चला है कि एक ही कर्मचारी कार्यरत है।

दूसरे लोग कोविड की वजह से नहीं टिक रहे

जनरेटर ऑपरेटर करने के लिए हमारे पास सिर्फ एक ही आदमी उपलब्ध है। कुछ लोगों को बुलवाया था, लेकिन वह कोविड की वजह से ज्यादा देर नहीं टिके। हमने रविवार को दो अन्य लोगों को भी बुलवाया है जो समय पर जनरेटर चालू कर सकें।
डॉ. राजकुमार ऋषिश्वर, सिविल सर्जन, जिला अस्पताल शिवपुरी

वही अंत में समाजसेवी फिर आगे आए

जिला चिकित्सालय में बार बार लाइट जाने की घटना से चिंतित क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप ने गहन चर्चा उपरांत यह तय किया कि जिला चिकित्सालय में एक बड़ा जनरेटर रखवाया जाए।इस स्थिति से निबटने के लिए समाजसेवी आकाश शर्मा और संदीप पारख ने संजय पुरी गोस्वामी से चर्चा की चर्चा उपरांत संजय जी के द्वारा एक बड़ा जनरेटर जिला चिकित्सालय में रखवाया गया,इस कार्य को बड़ी ही जिम्मेदारी से समाजसेवी आकाश शर्मा ने पूरा किया।