बुध रही रहा शुद्धः आज कोरोना ने ली 10 लोगो की जान, 247 पाॅजिटिव - Shivpuri News

शिवपुरी। आज शिवपुरी के लिए बुध शुद्ध नही रहा है,आज किलर कोरोना ने 10 लोगो के प्राण हरे हैं। आज 287 लोगो की जांच रिपोट आई हैं जिसमें से 247 लोग जिले में पाॅजीटिव आए है। 147 मरीज कोरोना से जंग लडकर अपने घर को गए हैं।

आज इन लोगो की हुई कोरोना से मौत
संजय जैन पुत्र प्रकाश चंद्र जैन निवासी महल रोड शिवपुरी उम्र 48 वर्ष ने मंगलवार रात 9ः50 बजे शिवपुरी में दम तोड़ा। विद्युत विभाग में कार्यरत इंजीनियर आलोक सहायक गौर पुत्र एसएस गौर उम्र 61 वर्ष निवासी चित्रगुप्त भवन फिजिकल रोड, फिजिकल कॉलेज के पूर्व प्रभारी प्राचार्य ओमप्रकाश शर्मा की भी कोरोना से मौत हो गई।

पिछोर में तीन दिन पहले पत्नी की कोरोना से मौत के बाद पति की भी बुधवार को संक्रमण से मौत हो गई। स्वास्थ्य विभाग के पूर्व कर्मचारी विनोद श्रीवास्तव की पत्नी ममता श्रीवास्तव ने कोरोना से ग्वालियर में जंग हार गई थीं वहीं विनोद श्रीवास्तव का बुधवार को पिछोर में निधन हुआ।

उनकी कोरोना की रिपोर्ट आना अभी बाकी है। नरेंद्र नगर निवासी सेवानिवृत्त रेंजर अरुण जैन के 33 वर्षीय पुत्र सनी जैन ने इंदौर में उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। अरुण जैन भी इंदौर में कोरोना से जंग लड़ रहे हैं। इसके अलावा नया अमोला निवासी नरेंद्र राठौर पुत्र मलखान राठौर नामक 29 वर्षीय युवक ने मंगलवार रात जिला अस्पताल में कोरोना से दम तोड़ दिया। नरेंद्र 15 अप्रैल को इंदौर से अमोला आया था।

एक ही परिवार में कोरोना से दूसरी मौत
टीवी टावर रोड निवासी समाधिया परिवार पर आज डेढ़ माह के भीतर दूसरा वज्रपात उस समय हुआ जब पटेल नगर स्थित काली माता आश्रम के महंत और समाधिया परिवार के सदस्य नीरज समाधिया उम्र 48 वर्ष ने भोपाल में उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। वह कोरोना से जंग हार गए।

इनके बड़े भाई उपेंद्र समाधिया भी डेढ़ माह पूर्व भोपाल में ही कोरोना जंग हार चुके हैं। यहां एक आंगनवाड़ी कार्यकर्ता यशोदा रावत की भी मौत हो गई इसे कोरोना पॉजिटिव होने के कारण सिद्घि विनायक अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जहां हालत बिगडने पर उसे ग्वालियर रैफर कर दिया महिला ने रास्ते में ही दम तोड़ दिया।

अस्पताल ले जाते वक्त शिक्षक की मौत, कारण अज्ञात
शिवपुरी के जाम खो प्रावि में पदस्थ सहायक शिक्षक कैलाश नारायण शर्मा की बुधवार को अचानक तबीयत बिगड़ गई। एकाएक बिगड़ी हालत के चलते अस्पताल ले जाने से पूर्व ही झांसी रोड क्षेत्र में मौत हो गई। बताया जाता है कि शिक्षक को हाल ही वैक्सीन का दूसरा टीका भी लग गया था।

उनकी हालत बिगड़ी उन्हें उल्टी हुई और जकडन की शिकायत भी परिजन अस्पताल ले जाते उससे पूर्व ही उन्होंने दम तोड़ दिया। कल तक वह एक दम स्वथ्य थे। यहां बता दें कि करई में पदस्थ शिक्षक पंकज श्रीवास्तव निवासी विवेकानंदपुरम ने कल ठीक इसी तरह से दम तोड़ दिया था।