ओवरलोड वाहन ले रहे जान, हादसों के बाद भी नहीं कार्रवाई: आंख मूंद कर बैठा है प्रशासन - kolaras News

कोलारस। जिले के कोलारस अनुविभाग के रन्नोद कस्बे में दिन ढलते ही शहर की सड़कों पर ओवरलोड वाहन घुसपैठ कर रहे हैं। इन पर कार्रवाई की सुध कोई नहीं ले रहा है। इससे दुर्घटना बढ़ रही है तथा आये दिन किसी न किसी को अपनी जान से हाथ तक धोना पड रहा है। नगर में इन दिनों भूसे के ओवर लोड बाहनों से दुर्घटना की आशंका बनी हुई है।

नगर में सुरक्षा की दृष्टि से शासन प्रशासन को चाहिये कि बड़े वाहनों के आवागमन का समय निश्चित किया जाए जिससे अब आगे से किसी व्यक्ति की मृत्यु न हो। भूसे का सीजन तो शुरू हो गया करीब एक महीने से ऊपर ओर भूसा की सप्लाई की जावेगी लेकिन इस बीच में राकेश पाठक की जान भूसे के ओवरलोड वाहन ने ले ली।

बड़े वाहन कस्बे में किए जाएं प्रतिबंधित

आम जन का कहना है कि रात्रि 10 ओर 12 बजे के बाद ही भारी वाहन नगर से होकर प्रवेश करे तो बेहतर रहेगा साथ आम जन की जान सुरक्षित रहेगी। उक्त वाहन का आवागमन नियम अंतर्गत होना जरूरी है, लेकिन कोई नियंत्रण नहीं होने से वाहन ओवरलोड स्थिति में नगर के बीचों बीच प्रवेश कर रहे हैं, इससे सड़कों से गुजरने वाले वाहन चालकों की परेशानी बढ़ रही है।

क्षमता से अधिक ढो रहे वजन

नियमानुसार हर वाहन की माल ढोने की क्षमता होती है। क्षमता अनुसार वाहनों में सामग्री भरना चाहिए, ताकि सुरक्षा बनी रहे, लेकिन कुछ टेक्टरों चालक व ट्रकों में क्षमता से अधिक माल भरते हैं, इससे वाहन असंतुलित होने, ब्रेक नहीं लगना, चलते वक्त ट्रक पलटने जैसी स्थिति का डर बना रहता है।

पिछोर व डंगौरा रोड पर भारी वाहनों की अधिक आवाजाही

पिछोर रोड व डंगोरा जोड़ रोड पर हमेशा ओवरलोड वाहनों की आवाजाही बनी रहती है। इन दिनों भूसे का व्यापार काफी हद तक जारी है टेक्टरों व ट्रक के दोनों पल्लों पर इस कदर भूसा भरा जाता है कि, कई बार कोई अन्य बाहन साइट से टक्कर दे कर चला जाता है, इससे रास्ते भर भूसा गिरता नजर आता है,।आगे पीछे से आने वाले छोटे वाहन चालकों को परेशानी का सामना करना पड़ता है। कई बार यह तो दुर्घटना का कारण भी बन जाती है।

नहीं होती कार्रवाई

ओवरलोड वाहनों पर नियमानुसार कार्रवाई की जाना चाहिए लेकिन हादसों के बाद पुलिस और प्रशासन कुछ दिन तो सख्ती दिखाता है लेकिन उसके बाद कार्रवाई ठंडे बस्ते में डाल दी जाती है।

थाना प्रभारी बोली अभी ज्वाइन किया है

थाना प्रभारी अंशुल गुप्ता का कहना है कि उन्होंंने अभी ज्वादन किया है और वह अवकाश पर है आने के बाद इन वाहनों के विरूद्ध कार्रवाई की जाएगी।