किसान को थमा दी नकली दवाई, काम नहीं किया तो किसान ने किया विरोध, दुकानदार ने अभ्रदता करते हुए भगा दिया - kolaras News

कोलारस। जिले के रन्नौद कस्बे में एक किसान के खेत मे दवा काम न करने एवं राहुल कृषि सेवा केंद्र रन्नौद के द्वारा अभद्रता का मामला प्रकाश में आया है जहां किसान वीरपाल सिंह यादव का कहना है मेरी 4 से 5 बीघा खेत मे खड़ी मसूर की फसल में माहू के इलाज के लिए फसल में कीटनाशक दवा का छिड़काव करने से फसल नष्ठ होने की कगार पर है। 

जब मामले को लेकर कृषक रन्नौद राहुल कृषि सेवा केंद्र संचालक के पास पहुचे ओर फसल नष्ठ होने की बात कही तो उल्टा हमे अभद्र भाषा का प्रयोग किया न ही फसल की भर पाई की बात कही तथा कहने लगे ज्यादा नेता बनोगे तो जेल की हवा खिलबा देंगे। 

कीटनाशक दवा के डिब्बे पर लिखे कस्टमर केयर नंबर पर जब उसने संपर्क किया तो कंपनी के प्रतिनिधि भेजने की बात तो कही, किंतु आज तक कोई नहीं आया। अब किसान के सामने जीवननिर्वाह का संकट खड़ा हो गया है। कर्ज लेकर फसल लेने वाले किसान को यह चिंता सताए जा रही है कि आखिर वह कैसे कर्ज चुकाएगा। 

कृषक ने इस मामले में जांच कर दवा कंपनी व राहुल कृषि सेवा केंद्र पर कार्रवाई करने तथा सरकारी मदद की गुहार लगाई है।

मसूरी ग्राम के निवासी कृषक वीरपाल सिंह यादव ने अपने 4 से 5 बीघा खेत में लगी मसूर की फसल में माहू रोग के लिए 30 दिसम्बर 2020 को रन्नौद थाना के स्थित राहुल कृषि सेवा केंद्र से दवा ली दुकान से कीटनाशक दवा मांगी। दुकानदार ने उसे मोनोटोम्स, दवा दी व वीरपाल सिंह यादव ने दवा ले जाकर फसल पर छिड़काव कर दिया जिससे नष्ठ होने की कगार पर फसल आ गई है।

छिड़काव के कुछ दिन बाद कृषक ने फसल देखी तो पता चला कि राहुल कृषि सेवा केंद्र ने खराब दवा पकड़ा दी और आने वाले समय मे फसल को सही दवा का छिड़काव नही किया गया तो सारी फसल नष्ट होना तय है।