रिटायर्ड हवलदार के खाते से 49 हजार गायब, फुटेज निकालने के लिए बैंक मांग रहा हैं चार्ज

करैरा। करैरा के सेपरा गांव में रहने वाले रिटायर्ड हवलदार के खाते से 49 हजार रुपए निकल गए हैं। एसबीआई शाखा करैरा में संपर्क करने के बाद वाउचर को फर्जी बताया। रिटायर हवलदार के छोटे बेटे का कहना है कि हमने संबंधित तारीख की सीसीटीवी फुटेज देने की बात कही तो बैंक मैनेजर 2 हजार रुपए मांग रहा है।

मूलचंद उम्र 73 साल पुत्र हीरालाल कुशवाह निवासी राधे बाबड़ी के पास ग्राम सेपरा का भारतीय स्टेट बैंक शाखा करैरा में बैंक खाता है। मूलचंद जनवरी के पहले सप्ताह में पेंशन की राशि की जानकारी लेने बैंक शाखा पहुंचे। स्टेटमेंट निकलवाने पर पता चला कि 11 दिसंबर को 49 हजार रुपए निकले हैं। 

जबकि मूलचंद व उसके बड़े बेटे ने इस बारे में जानकारी मांगी। वाउचर दिखा देने के बाद दोनों चले गए। दूसरे दिन रिटायर हवलदार के साथ छोटा बेटा रामू कुशवाह आया और वाउचर को फर्जी बताकर सीसीटीवी फुटेज की मांग की।

बेटा बोला. पिता बड़े हस्ताक्षर करते हैं, वाउचर पर छोटे हस्ताक्षर। रामू कुशवाह का कहना है कि उसके पिता बड़े आकार में हस्ताक्षर करते हैं। जबकि बैंक वालों ने जो वाउचर दिखाया है, उसमें छोटे हस्ताक्षर हैं। इसी आधार पर 11 दिसंबर 2020 की बैंक शाखा के अंदर की सीसीटीवी फुटेज की मांग की है। लेकिन बैंक मैनेजर दो हजार रुपए देने के एवज में फुटेज उपलब्ध कराने की बात कह रहे हैं।

इंजीनियर को बुलवाना पड़ेगा, उसे खर्च देना होगा
पहले दिन रिटायर हवलदार के साथ बड़ा बेटा आया था, तब वाउचर देखकर सहमत हो गए थे। लेकिन बाद में छोटे बेटे के साथ बैंक आए और वाउचर को गलत बताया। फुटेज मांगने पर हमने हेड ऑफिस से परमिशन मांगने और इंजीनियर को बुलाने की बात कही। इसका खर्चा आएगा, उसके रुपए उपभोक्ता को चुकाने होंगे। 
अमरलाल वर्मा, प्रबंधक, एसबीआई शाखा करैरा