पोहरी में ब्राह्मण मतदाताओं को साधने में जुटी भाजपा, CM हाउस के बाद सोनचिरैया होटल में ली बैठक - SHIVPURI NEWS

शिवपुरी।
पोहरी विधानसभा क्षेत्र के उपचुनाव में ब्राह्मण मतदाताओं को साधने में भाजपा लगी हुई है। कांग्रेस ने यहां से ब्राह्मण उम्मीदवार पूर्व विधायक हरिवल्लभ शुक्ला को टिकट दिया है। पोहरी में अभी तक ब्राह्मण या धाकड़ उ मीदवार ही चुनाव में विजयी हुआ है। भाजपा ने धाकड़ (किरार) जाति के उ मीदवार सुरेश राठखेड़ा को अपना उ मीदवार बनाया है।

ब्राह्मण मतदाताओं को साधने के लिए पिछले दिनों मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने निवास स्थान पर पोहरी के प्रमुख ब्राह्मण मतदाताओं की बैठक ली थी। वहीं शिवपुरी के सौनचिरैया होटल में पोहरी विधानसभा के प्रभारी विधायक शारदेंदु तिवारी ने क्षेत्र के प्रमुख ब्राह्मण मतदाताओं की बैठक बुलाकर उनसे भाजपा को जिताने की अपील की।

बैठक में पूर्व विधायक नरेंद्र बिरथरे और 2008 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस उम्मीदवार के रूप में लड़े एनपी शर्मा प्रमुख रूप से मौजूद थे। श्री शर्मा ने विधानसभा उपचुनाव में कांगे्रस टिकट के लिए पूरी ताकत लगाई थी। लेकिन टिकट न मिलने पर उन्होंने सिंधिया के प्रति आस्था व्यक्त करते हुए भाजपा ज्वाईन कर ली।

पोहरी में उपचुनाव जातिगत रंग में रंगा हुआ नजर आ रहा है। विधानसभा क्षेत्र में लगभग 40 हजार किरार मतदाता हैं और पूर्व कांग्रेस विधायक और वर्तमान भाजपा उम्मीदवार किरार जाति से हैं। क्षेत्र में लगभग 15 हजार ब्राह्मण मतदाता हैं और कांग्रेस ने ब्राह्मण उम्मीदवार हरिवल्लभ शुक्ला को टिकट दिया है। ऐसी स्थिति में ब्राह्मण मतदाताओं को अपने पक्ष में मोडऩे के लिए भाजपा सक्रिय हो गई है।

पिछले दिनों मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सीएम हाऊस में क्षेत्र के प्रमुख ब्राह्मण नेताओं की बैठक बुलाकर उनसे भाजपा क को जिताने की अपील की और कहा कि उनके हितों का बराबर ध्यान रखा जाएगा। भाजपा ने इसी मकसद से पोहरी विधानसभा क्षेत्र का प्रभारी चुरहट के भाजपा विधायक शरदेंदु तिवारी को बनाया है।

श्री तिवारी ने 2018 के विधानसभा चुनाव में अजय सिंह को पराजित किया था। पोहरी में ब्राह्मण मतदाताओं को अपने पक्ष में मोडऩे के लिए पूर्व विधायक नरेंद्र बिरथरे को भी खासी तब्बजों दी गई है और बैठक में ब्राह्मण मतदाताओं को वायदा किया गया कि पोहरी में सुरेश राठखेड़ा के साथ-साथ विधायक की हैसियत में नरेंद्र बिरथरे भी काम करेंगे। कोलारस के ब्राह्मण नेता सुरेंद्र शर्मा और पूर्व मंडी अध्यक्ष एनपी शर्मा को भी सक्रिय किया गया है।