कुर्सी खिसक गई तो पसीना पोछते वोट मांगते घूम रहे है, 3 तारीख को जनता दरवाजा बंद करेगी: ज्योतिरादित्य सिंधिया - Pohri News

शिवपुरी। पोहरी और करैरा विधानसभा में होने बाले उपचुनाव को लेकर दोनों ही प्रमुख दल अपने चुनावी अभियान में अंतिम चरण में पूरी जान झौंकने में लगे हुए है। शिवराज सिंधिया सहित पूरी भाजपा अपनी सीटों को बचाने चुनाव में लगी हुई है। जिसके चलते आज पोहरी और करैरा के प्रत्याशीयों के पक्ष में मतदान करने भाजपा के राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया आज नरवर पहुंचे।

जहां उन्होंने बीजेपी प्रत्याशी जसवंत जाटव और सुरेश धाकड़ राठखेड़ा के पक्ष में वोट मांगे। इस दौरान सिंधिया ने कमलनाथ और दिग्विजय सिंह पर जमकर निशाना साधा। सांसद सिंधिया ने कहा कि कमलनाथ ने 15 महीने तक अवैध रेत उत्खनन, शराब का व्यापार, ट्रांसफर उद्योग चलाकर केवल भ्रष्टाचार किया।

अब कुर्सी खिसक गई तो पसीना पोछते हुए वोट मांगते घूम रहे हैं। सिंधिया ने कहा कि मैंने शिवराज सिंह चौहान के साथ यह निर्णय लिया है कि ग्वालियर चंबल संभाग में अवैध उत्खनन और भ्रष्टाचार नहीं होने दूंगा। कांग्रेस ने मुझसे भी कहलवाया झूठ सिंधिया ने कहा कि कांग्रेस ने अपने वचन पत्र में कहा था कि 10 दिनों में किसानों का कर्ज माफ होगा, यह झूठ उन्होंने मुझसे भी कहलवाया और 10 दिनों में कर्ज माफ नहीं हुआ।

कर्ज माफी के नाम पर कमलनाथ और दिग्विजय सिंह ने अन्न दाताओं के साथ गद्दारी की। सिंधिया ने कहा कि उन्होंने मुझसे कहा- सड़क पर उतर जाओ, मैने सड़क पर उतरकर उनकी सरकार को धूल चटा दी। कमलनाथ ने बंद कर दी योजनाएं 15 महीने की कमलनाथ सरकार में दो सीएम थे। एक सीएम कमलनाथ और एक सुपर सीएम दिग्विजय सिंह, जिन्होंने लाड़ली लक्ष्मी योजना, कन्यादान योजना की राशि देना बंद कर दी।

किसानों को फसल बीमा का पैसा जमा नहीं किया। शिवराज सिंह की सरकार बनते ही लाड़ली लक्ष्मी योजना, कन्यादान का पैसा किसानों का फसल बीमा का पैसा 10 दिन में जमा हो गया।

इतिहास ग्वालियर चंबल संभाग ने बनाया था कमलनाथ को सीएम सिंधिया ने चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा कि मध्यप्रदेश में कांग्रेस की सरकार और कमलनाथ मुख्यमंत्री अगर बने हैं, तो वह ग्वालियर चंबल संभाग की वजह से बने हैं। इतिहास उठाकर देख लो ग्वालियर चंबल संभाग में कांग्रेस को कभी भी 18 से ज्यादा सीटें नहीं मिलीं।

जनता ने क्षेत्र के विकास और प्रगति के लिए कांग्रेस को 34 में से 26 विधानसभा सीटों पर चुनाव जिताया है। अगर ग्वालियर चंबल संभाग से कांग्रेस को 26 की जगह 21 सीटें भी मिलती तो ये एक उपलब्धि होती.जनता करेगी दरवाजा बंद सिंधिया ने कहा, इस क्षेत्र के विधायक जब भी कमलनाथ के पास सड़क, बिजली पानी की समस्या और विकास कार्यों के लिए जाते थे तो कमलनाथ उनके मुंह पर दरवाजा बंद कर देते थे। लेकिन अब तीन नवंबर को जनता कमलनाथ और दिग्विजय सिंह के मुंह पर वोट के जरिए दरवाजा बंद कर बदला लेगी।