CM HELPLINE के निराकरण गंभीरता से करें, कोई भी अधिकारी बिना सूचना अनुपस्थिति मिला तो कार्यवाही होगी: कलेक्टर

शिवपुरी। कलेक्टर श्रीमती अनुग्रह पी ने अवकाश से लौटने के बाद चार्ज लिया और अंतर विभागीय समन्वय बैठक में विभिन्न विभागों की समीक्षा की। उन्होंने सभी जिलाधिकारियों को निर्देश दिए हैं की टीएल पत्र और सीएम हेल्पलाइन पर ध्यान दें। वरिष्ठ कार्यालय और विभिन्न आयोग के पत्रों का जवाब समय पर भेजें। उन्होंने आपकी सरकार आपके द्वार जन समस्या निवारण शिविर में आने वाले आवेदनों की समीक्षा करते हुए सभी जिलाधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि सभी आवेदनों पर समय पर कार्यवाही हो अगर कोई आवेदक पात्र नहीं है तो उसे अवगत करा दिया जाए।

सोमवार को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित अंतर्विभागीय समन्वय बैठक में  वनाधिकार पट्टों, आपकी सरकार आपके द्वार के आवेदनों,समय सीमा पत्र और सीएम हेल्पलाइन, राजस्व वसूली, जय किसान फसल ऋण माफी, किसान सम्मान निधि और स्वरोजगार योजनाओं की समीक्षा की गई। बैठक में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी एच.पी.वर्मा, अपर कलेक्टर आर.एस.बालोदिया, समस्त एसडीएम एवं विभिन्न विभागों के जिला अधिकारी उपस्थित थे।

उन्होंने कहा कि कोई भी अधिकारी बिना सूचना के बैठक से अनुपस्थित न रहे। बैठक से अनुपस्थित रहते है तो वह पूर्व में अनुमति लें और अनुपस्थित रहने के कारण सहित सूचना दें।

काम न करने वाले सत्यापन दल के विरुद्ध कार्यवाही के निर्देश
खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत बीपीएल परिवारों का सत्यापन किया जा रहा है। जिसके लिए सत्यापन दल बनाये गए हैं। कलेक्टर श्रीमती अनुग्रहा पी ने कहा है कि जो दल काम में रूचि नहीं ले रहे उनके विरुद्ध कार्यवाही करें। उन्होंने जिला आपूर्ति अधिकारी एवं एसडीएम को मोनिटरिंग के निर्देश दिए हैं और कहा है कि लापरवाही करने वाले कर्मचारियों के निलंबन का प्रस्ताव भेजें। यह महत्वपूर्ण काम है। इसे जल्द पूरा करें।