हत्या के बाद आरोपी के घर में घुसकर आग लगाने के मामले में 10 लोगों पर FIR

पिछोर। खबर जिले के पिछोर अनुविभाग के हिम्मतपुर चौकी क्षेत्र से आ रही है। जहां बीते दिनों एक हत्या के बाद उपजे तनाब के बाद आरोपी के घर में आग लगाकर राख कर देने के मामले में पुलिस ने अब 10 नामदर्ज आरोपीयों पर आगजनी का मामला दर्ज कर विवेचना में ले लिया है। उक्त मामले में हत्या के बाद आरोपीयों ने हत्यारे के घर में आग लगा दी थी। जिससे उसके घर में रखा खाने पीने के सामान सहित लगभग 30 लाख रूपए का नुकसान हो गया था।

इस मामले की शिकायत पीडित नरेन्द्र पुत्र रामपाल सिंह परमार उम्र 40 साल निवासी द्धारिका ने पुलिस चौकी हिम्मतपुर में की। जहां पुलिस ने इस मामले में पीडित की शिकायत पर आरोपी, भगवतसिह,वीरेन्द्र सिह,रुप सिह, मानेन्द्र सिंह,रुपेन्द्र सिह,शिशुपाल सिंह,राजाभैया,राजा चौहान, मानवेन्द्र सिंह, नातीराजा चौहान निवासी बिरोली सहित 30 से 40 अज्ञात लोगों के खिलाफ धारा 427,436,456,147,294 भादवि के तहत मामला दर्ज कर विवेचना में ले लिया है।

यह थी घटना
पिछोर की हिम्मत पुलिस चौकी के गांव बिरौली में गुरुवार की शाम राघवेंद्र सिंह (38) पुत्र जगदीश सिंह बुंदेला निवासी तालभेट बिजरौंठा की गोली मारकर हत्या कर दी। देर रात फरियादी भगवतसिंह (60) पुत्र मंगलसिंह चौहान निवासी बिरौली ने पिछोर थाने में मुकदमा दर्ज कराया था।

फरियादी भगवतसिंह का कहना था  कि 19 दिसंबर की शाम 4 बजे खेत पर मैं, मेरा भाई वीरेंद्रसिंह, भांजा राघवेंद्रसिंह एवं खेत पड़ोसी पृथ्वीराज सिंह मौजूद थे। मानवेंद्रसिंह चौहान निवासी करारखेड़ता वहीं पर था। हमारी फसल में पानी चल रहा था। मेरा भांजा राघवेंद्र 15 से 20 मीटर दूर खेत पर बने मकान के पास बनी हौदी पर खड़ा था।

तभी मेहरबान पुत्र राव राजा 12 बोर बंदूक लिए, बंटी पुत्र अतिबलसिंह कट्‌टा, गोलू उर्फ रुद्र पुत्र लक्ष्मण सिंह 315 बोर कट्टा, संजू उर्फ संजय बुंदेला पिस्टल, चंद्रप्रतापसिंह पिस्टल के साथ आए। गोलू उर्फ रुद्र ने कट्‌टे से भांजे राघवेंद्र के दाहिने सीने में गोली मार दी। राघवेंद्र गिर गया और चिल्लाने लगा मामा बचाओ, तब मै व मेरा भाई वीरेंद्र दौड़कर आए।

इस घटना के बाद आरोपी फरार हो गए थे। तभी मतक के परिजनों ने आरोपी के घरों पर हमला बोल दिया। जिसके चलते आरोपीयों के घरोें को मृृतक के परिजनों ने आग के हबाले कर दिया था।