Ads 720 x 90

सावन का तीसरा सोमवार और नागपंचमी का दुर्लभ संयोग एक साथ, मंदिरों में भक्तों ने की शिव की आराधना | SHIVPURI NEWS

शिवपुरी। श्रावण के तीसरे सोमवार आज नागपंचमी के दुलर्भ संयोग के बीच आज सुबह से ही भक्तों का मेला उमड़ पड़ा। जहां हर हर महादेव के जयघोष के साथ जलाभिषेक और नागपंचमी की पूजा शुरू हुई। शहर के प्राचीन शिव मंदिर सिद्धेश्वर महादेव और नाई की बगिया में स्थित नागदेवता के मंदिर पर भक्तों की लंबी लंबी लाइन देखी गई।

सिद्धेश्वर मंदिर सहित चंद्रमोली महादेव मंदिर, माधव चौक हनुमान मंदिर, इच्छापूर्ण शिव मंदिर, नीलकंठेश्वर, गुप्तेश्वर महादेव मंदिर राजेश्वरी सहित अनेकों मंदिरों पर भगवान शिव का जलाभिषेक किया गया। नागपंचमी के चलते इस बार नाग पूजन के लिए कोई भी सपेरा  शहर में नहीं देखा गया, क्योंकि सांपों को लेकर घूमने वाले सपेरों पर सांपों का प्रदर्शन करने पर रोक के कारण इस बार शहर में सपेरे नहीं देखे गए। जिस कारण नागदेवता की पूजा करने वाले भक्त शिवालयों में पहुंचकर  शिव के साथ-साथ नागदेवता की पूजा करते देखे गए।