मातहत के यहां VOLVO AC BUS, महाराज के यहां खटारा

शिवपुरी। सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया जानना चाहते हैं जनता ने उन्हे वोट क्यों नहीं दिया। इसके 1000 कारण हैं, इनमें से एक यह भी है। मध्यप्रदेश में सरकार VOLVO AC BUS का संचालन करने जा रही है। सबसे पहले यह मुख्यमंत्री के क्षेत्र छिंदवाड़ा और परिवहन मंत्री के क्षेत्र सागर में चलेंगी। सवाल यह है कि गोविंद सिंह को मंत्री बनाने वाले महाराजा ज्योतिरादित्य सिंधिया के क्षेत्र में क्यों नहीं चलेंगी। 

प्रदेश के राजस्व एवं परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने शनिवार को विधानसभा में कहा कि प्रदेश के सभी जिलों में वातानुकूलित (एसी) वॉल्वो बस चलाने की योजना है। पायलट प्रोजेक्ट के रूप में सबसे पहले छिंदवाड़ा और सागर से सेवाएं शुरू की जाएंगी। राजपूत ने वित्तीय वर्ष 2019-20 में विभागीय अनुदान मांगों पर जवाब दे रहे थे। 

पायलट प्रोजेक्ट में छिंदवाड़ा नाम का समझ आता है। सीएम के पद पर कमलनाथ हैं और वो हर योजना, हर तरह का बजट, हर तरह की सुविधा छिंदवाड़ा को दिलवाते हैं लेकिन दूसरा नाम शिवपुरी, गुना, अशोकनगर क्यों नहीं है। यह ज्योतिरादित्य सिंधिया का क्षेत्र है। चौंकाने वाली बात यह है कि दूसरा नाम सागर का है। मंत्री पायलट प्रोजेक्ट भी अपने क्षेत्र में ले गए। सवाल यह है कि ज्योतिरादित्य सिंधिया और मंत्री गोविंद सिंह के बीच कोई दूसरी डील तो नहीं है, वरना क्या कारण है कि पायलट प्रोजेक्ट में सिंधिया के क्षेत्र का नाम नहीं है।