पंजाब नेशनल बैंक द्वारा अमरनाथ के यात्रियों को किया जा रहा है परेशान | SHIVPURI NEWS

शिवपुरी। अमरनाथ यात्रा 1 जुलाई से चालू कर दी जाएगी इसी के चलते सभी यात्री तीन-चार माह पहले ही अपनी औपचारिकताएं पूरी कर लेते हैं जैसे मेडिकल बनवाना चालान जमा करना बैंक में ताकि यात्रियों को पहले से ही ट्रेन और बसों का रिजर्वेशन आसानी से मिल जाए ताकि वह बाद में रिजर्वेशन के लिए परेशान ना हो क्योंकि जून-जुलाई के माह में रिजर्वेशन मिलना बहुत मुश्किल हो जाता है।

इसी के चलते यात्रियों को बैंक यह कहकर परेशान कर रही है वाह चक्कर लगवा रही है कि अभी अमरनाथ यात्रा के चालन बैंक में नहीं आए हैं जब आएंगे तब आपको मिल जाएंगे कुछ यात्रियों जैसे राहुल गर्ग जितेंद्र गोयल देवेश बंसल अमित वर्मा द्वारा बैंक से पूछा गया कि आप चालान क्यों नहीं मंगा रहे हो हमें बाद में रिजर्वेशन नहीं मिल पाएगा  बैंक के कर्मचारियों द्वारा असंतोष व्यवहार करके यह कहा जाता है कि चालान मंगवाना हमारा काम नहीं है ऊपर से ही आते हैं और अगर आपको इतनी जल्दी है तो आप ग्वालियर जाकर अपना चालान जमा करा सकते हैं।

अगर हमने अभी से चालान मंगा लिए तो हमारे लिए अलग से 400 आदमियों का काम बढ़ जाएगा हम अपने बैंक का काम करें कि अलग से यह काम करें राहुल को बैंक के एक कर्मचारी द्वारा बताया गया कि बैंक में चालान 11:12 अप्रैल को आ गए हैं तब राहुल ने बैंक से संपर्क किया  बैंक ने बताया कि चालान आ गए हैं लेकिन कुछ चालान की कंप्यूटर में एंट्री करनी है तो आप सोमवार को आ जाएं राहुल गर्ग द्वारा सोमवार को बैंक से संपर्क किया गया तो बैंक द्वारा बताया गया कि आज बैंक में कोई स्टाफ नहीं आया हैं

आप शुक्रवार को संपर्क करें अब सवाल यह बनता है कि यात्री क्या यूं ही चक्कर लगाते रहे जबकि बैंक में चालान आ चुके हैं लेकिन अब यह 500 आदमियों का काम कौन करेगा यह बैंक कर्मचारी आपस में तय नहीं कर पा रहे हैं और यात्री परेशान हो रहे हैं राहुल गर्ग ने यह भी बताया कि हमने तो अपनी पूरी औपचारिकताएं 1 अप्रैल  को ही पूरी कर ली और हम पिछले 15 दिनों से बैंक के चक्कर लगा रहे हैं।


लेकिन बैंक वालों ने तो यह कह दिया कि क्या चालन नहीं आए और अब चालान बैंक में आ भी गए हैं तो बैंक यह कह रही है कि हम तो अप्रैल के लास्ट वीक में ही चालाक आपको देंगे और तभी जमा करेंगे उससे पहले नहीं आपको रिजर्वेशन मिले या ना मिले यह हमारी जिम्मेदारी नहीं है।