SHIVPURI NEWS - शराबी पति ने पत्नी को लाठी से पीट-पीटकर मार डाला और अधमरी पत्नी को घूरे में गाड आया

Bhopal Samachar

शिवपुरी। कोलारस थाना अंतर्गत ग्राम खैराई में एक नशेड़ी पति ने शुक्रवार की देर शाम अपनी पत्नी को लाठियों से पीट-पीट कर मौत के घाट उतार दिया। इसके बाद वह उसकी लाश को गोबर के ढेर में छिपा कर फरार हो गया। महिला को उसके स्वजन उपचार के लिए कोलारस स्वास्थ्य केंद्र लेकर आए, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने प्रकरण कायम कर मामले की विवेचना शुरू कर दी है।

जानकारी के अनुसार ग्राम खैराई निवासी घन सुंदर पुत्र इमरत लाल धाकड़ उम्र 45 साल नशे का आदी है। इसी के चलते वह गांजा और शराब पीकर आया दिन अपने स्वजन की मारपीट करता रहता है। इसी क्रम शुक्रवार की देर शाम उसने गांजा और शराब का नशा किया तथा घर पर आकर अकारण ही पत्नी रूपवती की लाठी से मारपीट करना शुरू कर दी। जब रूपवती की बेटी ने मां को पिटता हुआ देखा तो वह अपनी मां के ऊपर लेट गई, लेकिन नशे में धुत्त घन सुंदर इसके बावजूद भी लाठियां बरसाता रहा  जिससे उसकी बेटी भी घायल हो गई।


जब रूपवती की मौके पर ही मौत हो गई तो घन सुंदर ने रूपवती की लाश को घर के बाहर मोहल्ले में पड़े घूरे पर फेंक दिया और इसके बाद उसके ऊपर गोबर पटक कर लाश को गोबर के ढेर में छिपाकर फरार हो गया, ताकि किसी को कुछ पता न लग सके। हालांकि  घन सुंदर को ऐसा करते हुए गांव के कुछ लोगों ने देख लिया और तत्काल घन सुंदर के पिता इमरत धाकड़ को मामले की सूचना दी। इसके बाद मृतक का पिता व पुत्र घर पहुंचे और गोबर के ढेर में से रूपवती की लाश को बाहर निकाल कर उसे उपचार के लिए कोलारस लेकर आए जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

पिता से पैसों के लिए झगड़ा तो पुलिस ने दिलाए थे पांच हजार
इमरत का कहना है कि जब घन सुंदर को इस बात का पता चला कि घर में रखा सोयाबीन बिक रहा है तो वह पिता से पैसों के लिए झगड़ा करने लगा, ताकि उसे नशा करने के लिए पैसा के मिल सके। बकौल इमरत विवाद ल पुलिस तक पहुंच गया तो पुलिस ने ही को उसे समझाते हुए बेटे को शांत करने के द लिए उसे इमरत से पांच हजार रुपये और दिलवाए थे। उन्हीं पैसों से उसने नशा श किया और इसके बाद घर पहुंच कर के सारा गुस्सा पत्नी पर निकालते हुए उसे टरों मौत के घाट उतार दिया।


कोलारस सोयाबीन बेचने आए थे पिता और पुत्र
आरोपित घन सुंदर ने जिस समय अपनी पत्नी के इस जघन्य हत्याकांड को अंजाम दिया उस समय घर पर वह और उसकी बेटी अकेली थी। आरोपित के पिता इमरत धाकड़ के अनुसार पिछले साल घने सुंदर की बड़ी बेटी की शादी की थी। शादी के समय कई लोगों से पैसा उधार लिया था, अब वह लोग पैसों की मांग कर रहे हैं। यही कारण है कि वह शुक्रवार को सोयाबीन लेकर बेचने के लिए कोलारस आया था ताकि पैसे आने पर कर्ज चुका सकें। इसी दौरान घनसुंदर ने इस घटना को अंजाम दे दिया।
G-W2F7VGPV5M