अनुशासन एवं समय प्रबंधन सफलता प्राप्ति का मूल मंत्र है, रासेयो की कार्यशाला में SP ने कहा- Shivpuri News

Bhopal Samachar

शिवपुरी। राष्ट्रीय सेवा योजना जिला शिवपुरी एवं यूनिसेफ आवाज संस्था के संयुक्त तत्वाधान में बाल संरक्षण पर एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन स्थानीय हैप्पीनेस होटल में संपन्न हुआ । उक्त जानकारी देते हुए राष्ट्रीय सेवा योजना जिला शिवपुरी के जिला संगठक डॉ एसएस खंडेलवाल ने बताया कि यह कार्यशाला बाल संरक्षण एवं उनके अधिकारों की जानकारी देने हेतु राष्ट्रीय सेवा योजना एवं यूनिसेफ आवाज संस्थान के माध्यम से आयोजित किया गया है

इस जिला स्तरीय कार्यशाला में राष्ट्रीय सेवा योजना जिला शिवपुरी के चयनित 5 इकाइयों के स्वयंसेवकों ने भागीदारी की एवं प्रशिक्षण प्राप्त किया कार्यक्रम के मुख्य अतिथि शिवपुरी जिले के पुलिस अधीक्षक श्री राजेश सिंह चंदेल थे कार्यक्रम की अध्यक्षता राष्ट्रीय सेवा योजना के राज्य संपर्क अधिकारी एवं उप सचिव उच्च शिक्षा डॉ आर के विजय द्वारा की गई कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि के रूप में जीवाजी विश्वविद्यालय के राष्ट्रीय सेवा योजना समन्वयक डॉ रविकांत अदालत वाले एवं ईटीआई प्रशिक्षण भोपाल के प्रशिक्षक श्री राहुल सिंह परिहार उपस्थित थे कार्यक्रम में कन्या महाविद्यालय की प्रभारी प्राचार्य डॉ ज्योत्स्ना सक्सेना भी उपस्थित थीं

कार्यक्रम में प्रशिक्षक के रूप में यूनिसेफ आवाज संस्था के दो प्रशिक्षक श्री गौरव एवं आसमा खान उपस्थित थे कार्यक्रम के उद्घाटन सत्र में उपस्थित अतिथियों ने सर्वप्रथम मां सरस्वती एवं स्वामी विवेकानंद की प्रतिमायों पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्वलन किया तत्पश्चात स्वयं सेविकाओं द्वारा सरस्वती वंदना एवं स्वागत गीत का सु मधुर गायन कर समारोह में समा बांध दिया तत्पश्चात राष्ट्रीय सेवा योजना की परंपरा के अनुसार अतिथियों का तिलक एवं बैच लगाकर स्वागत किया गया जिला संगठक डॉ एसएस खंडेलवाल द्वारा सभी अतिथियों का पुष्प हार द्वारा स्वागत किया गया तत्पश्चात राष्ट्रीय सेवा योजना का लक्ष्य गीत का गायन किया गया

राष्ट्रीय सेवा योजना की करतल ध्वनि के बीच आयोजित इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित पुलिस अधीक्षक श्री राजेश सिंह चंदेल ने स्वयंसेवकों को संबोधित करते हुए कहा कि स्वयंसेवकों को सफलता प्राप्त करने के लिए अनुशासन में रहना एवं अपने समय का उचित प्रबंधन करना चाहिए उन्होंने ऐसे कार्यक्रमों की आवश्यकता पर बल देते हुए कहा कि इस प्रकार के आयोजनों से लोगों में जागरूकता आती है और वह दूसरों के लिए भी जागरूक करने का कार्य करते हैं।हमारा देश प्राचीन समय से ही बाल अधिकारों समानता और उनके विकास के लिए प्रतिबद्ध रहा है और अब यह प्रतिबद्धता  आज के प्रशिक्षण के पश्चात रासेयो के स्वयंसेवकों की रहेगी।

कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे राष्ट्रीय सेवा योजना के राज्य संपर्क अधिकारी डॉक्टर आरके विजय ने अपने इस प्रशिक्षण की परिकल्पना के बारे में विस्तृत जानकारी देते हुए बताया कि बाल अधिकारों के जागरूकता हेतु यूनिसेफ एवं राष्ट्रीय सेवा योजना मध्य प्रदेश शासन द्वारा पहल की गई है जिसके तहत संपूर्ण मध्य प्रदेश की रासेयों युक्त जिलों में बाल अधिकारों को लेकर विभिन्न कार्यक्रमों  की श्रृंखला प्रारंभ की गई है इसी के तहत आज शिवपुरी जिले में यह गरिमा में कार्यक्रम आयोजित किया गया है और निश्चित ही जो स्वयं सेवक आज यह प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे हैं प्रशिक्षण उपरांत अपने- अपने क्षेत्रों में बाल अधिकारों के विषय मैं  जागरूकता कार्यक्रम करेंगे।

प्रशिक्षण सत्र में यूनिसेफ आवाज के प्रशिक्षक श्री गौरव और आसमा खान ने बाल तस्करी बाल विवाह बाल श्रम जैसे अपराधों की रोकथाम हेतु स्वयं सेवकों को प्रशिक्षित किया कार्यशाला के अंत में सभी प्रशिक्षण प्राप्त कर चुके स्वयंसेवकों को मंचासीन अतिथियों द्वारा प्रमाण पत्र वितरित किए गए।

कार्यक्रम में शिवपुरी, पिछोर, पोहरी एवं कोलारस तथा एसआईटी सतनवाड़ा की चयनित स्वयंसेवकों ने भागीदारी की कार्यक्रम में नोडल चाइल्ड लाइन शिवपुरी के सिटी समन्वयक श्री सौरभ भार्गव द्वारा सहयोग प्रदान किया गया उन्होंने चाइल्ड लाइन 1098 के विषय में संपूर्ण जानकारी दी एवं ममता संस्थान से कल्पना रायजादा ने भी सहयोग प्रदान किया कार्यक्रम का संचालन जिला संगठक राष्ट्रीय सेवा योजना डॉ एसएस खंडेलवाल द्वारा किया गया एवं आभार प्रदर्शन जीवाजी विश्वविद्यालय के राष्ट्रीय सेवा योजना के समन्वयक डॉ रविकांत अदालत वाले ने किया कार्यक्रम में राष्ट्रीय सेवा योजना के वरिष्ठ स्वयंसेवकों प्रदीप गोस्वामी
G-W2F7VGPV5M