टूटेगी कोरोना की कमर, तीसरी लहर के लिए ढाल बनेंगी यह मातृशक्ति: राजे का यह मॉडल अपना सकता हैं पूरा प्रदेश - Shivpuri News

शिवपुरी। किसी भी युद्ध को जीतने के लिए बल से अधिक रणनीति कारगर साबित होती है। कोरोना की कमर तोडने के लिए और तीसरी लहर के लिए ढाल की युक्ति पर शिवपुरी विधायक ओर मप्र की कैबिनेट मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया ने काम शुरू कर दिया है। यह मॉडल कोरोना से युद्ध में पराजित कर सकता हैं और राजे का यह मॉडल पूरा मप्र और अन्य प्रदेश भी अपना सकते हैंं।


मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया ने आज स्व सहायता समूह की महिला सदस्यों से चर्चा की। उन्होंने कहा कि जिले में स्वसहायता समूह सक्रिय रूप से काम कर रहे हैं। समूह की महिलाएं कोरोना महामारी को नियंत्रित करने में जनजागरूकता अभियान में भी भागीदारी करें। स्वयं अपने घर परिवार के लोगों को समझाने के साथ ही अपने आसपास और गांव के लोगों को इसकी गंभीरता के बारे में बताएं।

मंत्री सिंधिया ने कहा कि आज सभी के लिए प्रशिक्षण का आयोजन किया जा रहा है। सभी बारीकियों को समझें और यदि मन में कोई प्रश्न हो तो अवश्य पूछें ताकि आप सभी गांव की अन्य महिलाओं को प्रशिक्षण दे सकें। जब एक टीम के रूप में महिलाएं काम करेंगी तो कोरोना कर्फ्यू का पालन कराने में भी महिलाओं की सक्रिय भूमिका होगी। उल्लेखनीय है कि जिले में आजीविका मिशन के तहत 10900 समूहों में 127105 महिलाएं जुड़ी है। रविवार को संकुल स्तर पर 4-4 विकासखंड के दो बैच में प्रशिक्षण का आयोजन किया गया।

यदि किसी घर में कोई पॉजिटिव मरीज आता है तब उसकी जानकारी रखें और उसके संपर्क में आने वाले लोगों की जानकारी से संबंधित आरआरटी टीम और अधिकारियों को बताएं ताकि अन्य लोग यदि बीमार हैं तो उनका टेस्ट और इलाज समय पर हो सकेगा। तीसरी लहर की संभावना को देखते हुए अभी से लोगों को जागरूक करें और यदि कोई मामला सामने आता है तो तत्काल प्रशासन को सूचित करें।

रोको टोको अभियान में करें भागीदारी
मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया ने कहा है समूह की महिलाएं रोको टोको अभियान में अपनी भागीदारी दिखाएं। नियमित हाथ धोएं, मास्क पहने और 2 गज की दूरी का पालन करें और अन्य लोगों को प्रेरित करें। जहां भी लोग इसका पालन नहीं कर रहे हैं उन्हें रोक रोक करें।

किल कोरोना टीम के साथ जुड़कर काम करें
अभी किल कोरोना अभियान के तहत सुपरवाइजर, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता, आशा और एएनएम की टीम सर्वे कर रही हैं। इन टीम के साथ जुड़कर काम करें और अपने गांव व क्षेत्र की जानकारी सर्वे टीम और आरआरटी टीम को उपलब्ध कराएं।

टीकाकरण अभियान में करें सहयोग
मंत्री श्रीमती सिंधिया ने बैठक में कहा है कि महिलाएं टीकाकरण अभियान में सहयोग करें। पहले स्वयं और अपने परिवार के सदस्यों को टीका लगवाएं। उसके बाद अपने रिश्तेदारों और परिचितों को और गांव के लोगों को टीका लगवाने के लिए प्रेरित करें। जब आप स्वयं और परिवार के सदस्य टीका लगवाएंगे।

तब हम यह बता सकते हैं कि यह टीका पूरी तरह सुरक्षित है और अन्य सभी नागरिक टीकाकरण जरूर करें। स्व सहायता समूह की ट्रेनिंग में जिले की कोविड प्रभारी एवं प्रमुख सचिव मध्य प्रदेश शासन श्रीमती दीप्ति कोड मुखर्जी जिला कलेक्टर अक्षय कुमार सिंह में भी इस संबंध में अपने सुझाव व्यक्त किए तथा प्रोत्साहित किया की प्रदेश में पहली बार इस प्रकार का प्रयोग किया जा रहा है जो एक मिसाल बनेगा