स्टूडेंट्स को लिए राहत भरी खबर: कॉलेज में एडमिशन का दूसरा चरण - Shivpuri News

शिवपुरी। ऑनलाइन प्रवेश के दो चरण पूरे होने के बाद भी यूजी में अभी भी 30 फीसदी सीटें खाली हैं। जबकि बुधवार से पीजी का दूसरा चरण शुरू हो गया है और इसकी अभी 45 फीसदी सीटें खाली हैं। ऐसे में छात्रों को दूसरे चरण में रजिस्ट्रेशन की लिंक न खुलने से परेशानी हुई है। इसलिए ऐसे छात्रों की सुविधाओं के लिए अब सीएलसी राउंड भी शुरू होगा जिसमें 15 फीसदी तक सीटें महाविद्यालय को बढ़ाने का अधिकार रहेगा। 

इस बार कोविड -19 की गाइड लाइन के चलते प्रवेश प्रक्रिया भी देरी से शुरू हो सकी । कक्षा 12 का परीक्षा परिणाम घोषित होने के बाद हालांकि यूजी में प्रवेश के लिए छात्रों की प्रक्रिया शुरू हो गई लेकिन कुछ छात्र पहले और दूसरे चरण में रजिस्ट्रेशन लिंक न खुलने के चलते अपना पंजीयन कॉलेज में नहीं करा सके।

इस वजह से यूजी में प्रवेश के लिए परेशान छात्रों के लिए नए सिरे से लिंक खोलने अभाविप के छात्र नेताओं ने प्रदर्शन कर उच्च शिक्षा मंत्री के नाम मंगलवार को ही ज्ञापन सौंपा था और देर रात मंगलवार को आदेश जारी हुआ कि जो छात्र प्रवेश से वंचित रह गए हैं और कॉलेज में पढाई की सुविधा है तो ऐसे छात्रों के लिए सीएलसी राउंड में फिर से प्रवेश दिया जाए। 

यदि संसाधन उपलब्ध हैं तो फिर कॉलेज छात्रों के लिए सीटें भी बढ़ाई जा सकती हैं जा सकती है । इस संबंध में अब कॉलेज प्राचार्य महेंद्र कुमार की मानें तो गुरुवार को वह जिले भर के प्राचार्यों की बैठक लेंगे और इस बैठक में वह उनके महाविद्यालय में कितनी सीटें रिक्त हैं कितनों पर प्रवेश पूर्ण हो चुके है और क्या छात्र संख्या कॉलेज में और बढ़ाई जा सकती है। 

इस बाबत लीड कॉलेज यानि श्रीमंत माधवराव सिंधिया शासकीय स्नात्कोत्तर महाविद्यालय शिवपुरी में बैठक कर रणनीति बनाएंगे और तय करेंगे कि किस तरह 15 फीसदी सीटें बढ़ाई जाएं।

अकेले पीजी कॉलेज में ही बीएससी बायो की 176 सीटे हैं और अभी 70 सीटे यहां खाली हैं। इसी तरह बीएससी मैथ्स में यहां 200 सीटे हैं और अभी 50 सीटे खाली हैं,इसी प्रकार बीए में 600 सीटे हैं और 30 खाली हैं,बीकॉम में 407 सीटे हैं और यहां 100 के लगभग सीटे खाली हैं। 

कुल मिलाकर 30 प्रतिशत सीटे खाली हैं जिनपर छ़ात्रो को प्रवेश दिया जा सकता हैं लेकिन यूजी के दूसरे लेवल की भी कांउसलिंग हो गई हैं अब छात्रो के पास केवल सीएलसी राउंड ही बचा है जो 9 अक्टूबंर को प्रारंभ होगा। 

कॉलेज प्रबंधन की माने तो पीजी में अकेले लीड कॉलेज में 500 सीटे हैं लेकिन यहां प्रेवश के लिए अभी भी 200 सीटे खाली हैं। दूसरे चरण की काउंसिलिंग बुधवार से शुरू हो गई हैं और माना जा रहा हैं कि 12 अक्टूबर तक यह प्रक्रिया चलेगी। 

पतिदिन दोपहर 12 बजे छात्रो को सीट अलॉटमेंट होगा। यादि वह अगले दिन 12 बजे तक यह फीस जमा नही करते हैं तो फिर उनका नामांकन निरस्त हो सकता हैं। यूजी का तीसरी चरण प्रवेश के लिए 9 अक्टूबर से ओर पीजी कोर्स के लिए 14 अक्टूबर से  शुरू होगा।