गुना वायपास से झांसी तिराहे तक फोरलेन पर डामरीकरण प्रारंभ, मिलेगी धूल और मिट्टी से राहत - Shivpuri News

शिवपुरी। 18 बटालियन से शहर के मध्य से होते हुए ककरवाया तक बनने वाली फोरलाईन सड़क का निर्माण कार्य बड़ी तेजी के साथ हो रहा है। ककरवाया से गुना वायपास तक और 18 बटालियन से ग्वालियर वायपास तक सड़क समतलीकरण पूर्ण हो चुका है। वहीं गुना वायपास से झांसी तिराहे तक की सड़क भी लगभग कम्पलीट होने वाली है। 

आज सड़क के एक हिस्से पर डामरीकरण शुरू हो गया है। जिसकी शुरूआत पीडब्ल्यूडी अधिकारियों ने विधिवद पूजा अर्चना कर की। जिससे लोगों को आस बंध गई है कि अप्रैल तक शहर के लोग फोरलाईन पर चल सकेंगे। डामरीकरण शुरू होने से इस क्षेत्र में उडने वाली धूल और मिट्टी से लोगों को काफी राहत मिलेगी। 

इस मामले को लेकर शिवपुरी समाचार लगातार धीमी गति की सड़क बनाने की गति धीमी होने को लेकर लगातार खबर का प्रशासन किया था, जिसे गंभीरता से लेकर कार्य को गति प्रदान की गई और इसका परिणाम यह हुआ कि कुछ ही दिनों में सड़क के एक हिस्से पर डामरीकरण शुरू हो गया। 

शिवपुरी शहर पिछले लंबे समय से सड़कों की समस्याओं से जूझ रहा है। पहले सीवर लाईन ने पूरे शहर को तहस नहस कर दिया। इसके बाद सिंध की लाईन के कारण शहर में खुदाई की गई। जिससे सड़के नहीं बन सकी। बाद में जब सीवर और पानी की लाईने डल गई तो शहर के मुख्य.मुख्य रास्तों पर सड़क बनाई गई। 

साथ ही एनएच.3 खत्म होने से और देवास.ग्वालियर फोरलाईन बनने से शहर में भारी वाहनों का प्रवेश बंद हो गया। लेकिन फोरलेन से शहर में प्रवेश करने वाला रास्ता टूटा फूटा होने के कारण शहरवासियों को समस्या का सामना करना पड़ रहा था। 

जिस पर केबिनेट मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया ने 18 बटालियन से लेकर ककरवाया फोरलाईन तक शहर के मध्य होते हुए फोरलाईन स्वीकृत कराई और अप्रैल तक कार्य को समाप्त करने की गाईडलाईन तय की गई। जिसके परिणाम स्वरूप शहर में फोरलाईन का निर्माण शुरू हुआ और कुछ ही महीनों के अंतराल में सड़क निर्माण की प्रक्रिया शुरू हो गई। 

आज झांसी तिराहा से गुना वायपास तक के एक साईड की सड़क पर डामरीकरण शुरू हो जाने से लोगों में खुशी का माहौल बन गया है और लोगों की आशा बंध गई है कि जल्द ही उन्हें फोरलाईन पर चलने का सौभाग्य मिलेगा। झांसी तिराहा से ग्वालियर वायपास तक का काम पोल शिफ्टिंग के साथ ही शुरू होगा और आने वाले समय में लोग बेहतर सड़क पर चल सकेेंगे।